इस साल भारतीय सेना में हथियारों का दबदबा, भारत ने एक साल में इतने परमाणु खरीदे, जानिए SIPRI की रिपोर्ट

नमस्कार दोस्तों! इस लेख में हम SIPRI की रिपोर्ट के अनुसार हम India nuclear deal की ऐसी खबर बताने जा रहे है जो की आपको अचम्बे तो डालेगी ही लेकिन देश के प्रति गौरवान्वित भी कर देगी। क्या है यह SIPRI की रिपोर्ट? और आखिर भारत ने ऐसा क्या कर दिखाया ही जिससे पुरे देश में यह Trend में है! आइये विस्तार से जानते है.

जब से रूस-यूक्रेन युद्ध शुरू हुआ है, तब से कई देश लगातार सुरक्षा के लिहाज से खुद को मजबूत करने की कोशिश कर रहे हैं. खासकर परमाणु क्षमता के मामले में। जहां एक ओर रूस-अमेरिका जैसे देशों ने अपने भंडार में हजारों की वृद्धि कर ली है, वहीं दूसरी ओर चीन, भारत और पाकिस्तान के बीच क्षेत्रीय तनाव के कारण परमाणु हथियार बनाने की होड़ शुरू हो गई है। इस बीच Stockholm international peace research institute (SIPRI) ने सोमवार को एक रिपोर्ट जारी की, जिसने दुनिया भर में परमाणु दौड़ की पुष्टि भी की।

परमाणु क्षमता विकसित करने में भारत आगे..

भारत अपने परमाणु जखीरे का विस्तार कर रहा है। पिछले साल दुनिया को एक नए तरह के परमाणु हथियार से रूबरू कराया। इतना ही नहीं, भारत लंबी दूरी की परमाणु क्षमता पर भी फोकस कर रहा है। वह ऐसे हथियार विकसित कर रहा है, जिससे वह अपने लक्ष्य तक पहुंच सके।

कई देशों ने चीन के साथ तनाव बढ़ा दिया है। चीन के साथ भारत की सीमा पर लगातार तनाव बना हुआ है। स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट यानी SIPRI की रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन तेजी से परमाणु हथियार विकसित कर रहा है। हालांकि, भारत और पाकिस्तान ने भी पिछले एक साल में परमाणु हथियारों की संख्या में इजाफा किया है।

भारत के पास अभी 164 परमाणु हथियार हैं। यानी भारत ने पिछले एक साल में अपने परमाणु हथियारों के जखीरे में चार गुना इजाफा किया है। भारत ने परमाणु पेलोड के साथ उपयोग के लिए जो हथियार विकसित किए हैं उनमें से अधिकांश लंबी दूरी के हैं। SIPRI की रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन से बढ़ते खतरे को देखते हुए भारत ऐसे हथियार विकसित कर रहा है जो चीन के जमीनी इलाके तक आसानी से पहुंच सके।

किन हथियारों को विकसित करने पर भारत का जोर?

इनमें अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि 5, पहली बैलिस्टिक मिसाइल पनडुब्बी (SSBM) आईएनएस अरिहंत, दूसरी परमाणु-संचालित स्वदेशी पनडुब्बी (SSBN) आईएनएस अरिघाट, परमाणु-संचालित पनडुब्बी लॉन्च बैलिस्टिक मिसाइल (SLBM) शामिल हैं। आईएनएस अरिहंत शामिल हैं।

अग्नि मिसाइल 7000 किमी की दूरी से दुश्मन की धजिया उड़ाएगी

भारत अब चाहे तो अग्नि-5 बैलिस्टिक मिसाइल से 7000 किमी दूर स्थित दुश्‍मन को तबाह कर सकता है। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने परमाणु सक्षम अग्नि-5 मिसाइल का वजन घटाकर उसकी क्षमता बढ़ाने में सफलता हासिल की है। भारत के पास पहले से ही 700 किमी की रेंज वाली अग्नि-1, 2000 किमी की रेंज वाली अग्नि-2, 2,500 किमी से 3,500 किमी की रेंज वाली अग्नि-3 मौजूद है। इन्हें पाकिस्तान के खिलाफ बनाई गई रणनीति के तहत तैयार किया गया है। जबकि अग्नि-4 और अग्नि-5 को चीन को ध्यान में रखकर डिजाइन किया गया है।

इसे भी पढ़े:

World Yoga day 2023
Bank of Baroda Interest rate
बिपरजॉय चक्रवात : इन सभी ट्रेन और फ्लाइट किया गया रद
Bank of baroda latest news

तो आज के लेख से हमने जाना की SIPRI की रिपोर्ट के अनुसार भारत कैसे परमाणु शस्त्रों में आगे है और India nuclear deal जो है वह बाकि देशो से भी बढ़कर है तथा भारत के इस कदम से अन्य देशो ज्यादा ताकतवर अब भारत देश हो चूका है. अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने अन्य दोस्तों से भी शेयर करना न भूले! बहुत बहुत आभार।

Leave a Comment